क्राइम बड़ी खबर

लॉकडाउन में बक्सर पुलिस के हत्थे चढ़ा बड़ा अपराधी

(बक्सर ऑनलाइन न्यूज़):- रविवार को पुलिस अधीक्षक उपेन्द्रनाथ वर्मा ने प्रेसवार्ता आयोजित कर बताया कि लॉकडाउन के दौरान बक्सर पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पचास हजार रुपये के इनामी अपराधी कुबेर मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसटीएफ के सहयोग से डुमरांव पुलिस ने गोपनीय तरीके से शनिवार की देर रात गिरफ्तार किया। कार्रवाई की भनक किसी को नहीं लगी। दोहरे हत्याकांड का आरोपित कुबेर मिश्रा कुछ समय पहले पटना से पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था। जिसके बाद से ही उसकी तलाश की जा रही थी। अब पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

पटना अस्पताल से हुआ था फरार

एसपी युएन वर्मा ने बताया कि लंबे समय से फरार चल रहे ब्रह्मपुर थाना के योगियां निवासी कुख्यात कुबेर मिश्रा के ऊपर दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने का आरोप है। विगत चार वर्षों से फरार कुबेर मिश्रा पुलिस के लिए सिरदर्द बन गया था। कुबेर मिश्रा को सबसे पहले 2 नवम्बर 2014 को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उसने अपने ही गांव योगियां में नीरज और प्रदीप यादव की हत्या कर दी थी। 16 अक्टूबर 2014 को हुई इस हत्या में करीब एक दर्जन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। इस बीच बीमार कुबेर को इलाज के लिए पटना भेजा गया था। जहां से 15 अगस्त 2016 को ही पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था।

उन्होंने कहा कि तब से कुबेर के पीछे बक्सर पुलिस के साथ ही एसटीएफ भी लगी थी। उसकी गिरफ्तारी के लिए 50 हजार के इनाम की भी घोषणा की गई थी। इस बीच हत्याकांड में नामजद अन्य दोषियों को सजा भी हो गई। लेकिन, कुबेर पुलिस के हत्थे चढऩे से बार-बार बच जाता था। शनिवार को अचानक पुलिस को उसके भोजपुर जिले के बेलैटी में छिपे होने की जानकारी मिली। जिसके बाद एसटीएफ के सहयोग से घेराबंदी करते हुए उसे दबोच लिया गया। इस मौके पर डुमराँव डीएसपी के.के सिंह भी मौजूद थे। वही इस बड़ी सफलता के पीछे डुमराँव डीएसपी और डुमराँव थाना की पुलिस की अहम भूमिका बताई जा रही हैं।